एस्ट्रो लेख

ऋग्वेद – क्या ह...

हिंदू धर्म के प्राचीन ग्रंथ वेद माने जाते हैं जिनकी संख्या चार है। इनमें ऋग्वेद सबसे प्राचीन माना गया है। धार्मिक व सांस्कृति दृष्टि से ही नहीं बल्कि दार्शनिक, साहित्यिक आदि अनेक प...

और पढ़ें ➜

संत सिपाही गुरु...

"जब-जब होत अरिस्ट अपारा। तब-तब देह धरत अवतारा।" गुरु गोबिंद सिंह जी के यह वचन श्रीमद भगवत गीता के अध्याय 4 के श्लोक 7 यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत । अभ्युत्थानमधर्मस्य त...

और पढ़ें ➜

धनु में वक्री ब...

बुध की चाल में होने वाले बदलाव को ज्योतिषशास्त्र में बहुत ही खास माना जाता है। 24 नवंबर से बुध वृश्चिक राशि से परिवर्तन कर धनु राशि में गोचर कर रहे हैं। हाल ही में 3 दिसंबर को बुध ...

और पढ़ें ➜

गुजरात विधानसभा...

गुजरात चुनाव 2017 में अब बहुत समय नहीं बचा है 9 दिसंबर को प्रथम चरण का मतदान होगा तो 14 दिसंबर को दूसरे व अंतिम चरण का। 18 दिसंबर को यह पता चल जायेगा कि गुजरात की जनता ने भारतीय जन...

और पढ़ें ➜

वेद क्या हैं और...

भारत ज्ञान के मामले में दुनिया का गुरु माना जाता है। विज्ञान अभी जिन चीज़ों की तह तक पंहुचने के लिये पहले पायदान पर खड़ा है, भारतीय ग्रंथों में उनसे संबंधित जानकारियां पहले से मौजू...

और पढ़ें ➜

नौकरी की चिंता ...

वर्तमान में हम कलयुग में रह रहे हैं। हिंदू पौराणिक ग्रंथों की मान्यतानुसार चार युगों में सतयुग त्रेता द्वापर बीत चुके हैं और यह कलयुग चल रहा है। कल यानि पूर्जा यानि मशीन और युग का ...

और पढ़ें ➜

कहां होगा आपको ...

करियर का मसला एक ऐसा मसला है जिसके बारे में हमारा दृष्टिकोण सपष्ट होना बहुत जरूरी होता है। लेकिन अधिकांश लोग इस मामले में मात खा जाते हैं। अक्सर हम बच्चों से पूछते हैं बेटे बड़े हो...

और पढ़ें ➜

कौनसी बातेंं बन...

दशहरा शब्द जहन में आते ही हमारे सामने रावण के बड़े-बड़े पुतले धूं-धूं कर जलने लगते हैं। लंबी हंसी के साथ रामलीला के मंचन के दौरान रावण द्वारा बोला ये संवाद ‘मैं लंकापति रावण हूं’ क...

और पढ़ें ➜

गुरु परिवर्तन -...

देव गुरु ग्रह बृहस्पति 12 सितंबर को कन्या राशि से परिवर्तित होकर तुला राशि में प्रवेश कर रहे हैं। बृहस्पति के गोचर में होने वाले इस परिवर्तन को ज्योतिषाचार्य बहुत ही अहम मानते हैं।...

और पढ़ें ➜

गुरु परिवर्तन -...

जिस तरह बृहस्पति का दर्जा देवताओं में गुरु का है और ग्रहों में भी उसे गुरुता हासिल है जिससे उन्हें सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है। इसी तरह ज्योतिषशास्त्र में भी बृहस्पति का कद बहुत बड...

और पढ़ें ➜

बृहस्पति राशि प...

देवताओं के गुरु बृहस्पति, ज्ञान, प्रसिद्धि, समृद्धि, संतान, सफलता के कारक एवं सौरमंडल में सबसे बड़े ग्रह माने जाते हैं। ज्योतिषशास्त्र में बृहस्पति को बहुत ही शुभ फलदायी ग्रह माना ...

और पढ़ें ➜

बल्लालेश्वर विन...

भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी से आरंभ हुआ गणेशोत्सव अपने चरम पर है। इस उत्सव के दौरान हम अपने पाठकों को बता रहे हैं भगवान श्री गणेश के महाराष्ट्र स्थित अष्टविनायक मंदिरों के बारे में। अष्ट...

और पढ़ें ➜

सिद्धिविनायक मं...

सभी देवों में सर्वप्रथम पूजनीय भगवान गणेश का दस दिवसीय उत्सव चल रहा है जो कि अनंत चतुर्दशी तक चलेगा। भगवान श्री कृष्ण के साथ-साथ भगवान श्री गणेश ही एकमात्र ऐसे देवता हैं जिन्हें बच...

और पढ़ें ➜

वक्री से मार्गी...

शनि ग्रह को ज्योतिषशास्त्र में बहुत ही शक्तिशाली ग्रह माना जाता है। राशिचक्र की कुंभ व मीन राशियों के स्वामी शनि न्याय के देवता भी माने जाते हैं। इन्हें दंडाधिकारी भी माना जाता है ...

और पढ़ें ➜

मयूरेश्वर मंदिर...

भारत की विविधता में एकता के रंग यहां के उत्सवों व पर्वों में बड़ी खूबसूरती से देखे जाते हैं। अलग-अलग धर्मों की तो छोड़िये एक ही धर्म में अलग-अलग क्षेत्रों में इतनी खूबसूरत सांस्कृत...

और पढ़ें ➜

क्या आपकी कुंडल...

किसी भी जातक की कुंडली में अनेक शुभाशुभ योग होते हैं। इन्हीं योगों के आधार पर जातक जीवन में अपना मुकाम हासिल कर पाता है। अशुभ योगों के प्रभाव से राजपरिवार में जन्मे जातक को भी दर-द...

और पढ़ें ➜

राहू राशि परिवर...

18 अगस्त शुक्रवार 2017 को प्रात:काल 5 बजकर 53 मिनट मिथुन के चंद्रमा के साथ कर्क राशि में प्रविष्ट होंगे जिसका प्रत्येक राशि पर अलग-अलग प्रभाव होगा। मेष – मेष राशि से राहू का परि...

और पढ़ें ➜

क्या आपकी कुंडल...

ज्योतिषशास्त्र में जातकों के भाग्योदय का कारण जातक की जन्मकुंडली में शुभाशुभ योगों का होना होता है। ऐसे बहुत सारे योग हैं जो किसी विशेष क्षेत्र में जातक को सफलता दिलाते हैं या फिर ...

और पढ़ें ➜

वैदिक राखी - जा...

रक्षाबंधन यानि राखी, इस त्यौहार को लेकर पूरे भारतवर्ष में विशेषकर हिंदूओं में पूरा उल्लास दिखाई देता है। भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक बन चुका यह त्यौहार श्रावण मास की पूर्णिमा को मना...

और पढ़ें ➜

Jab Harry Met S...

शाहरुख ख़ान बॉलीवुड का एक ऐसा नाम जिसमें हिंदी सिनेमा में अपनी बादशाहत कायम की है। वैसे तो शाहरुख ख़ान की अधिकतर फिल्मों को देखें तो उन्हें रोमांस का देवता कहा जा सकता है लेकिन समय...

और पढ़ें ➜