लव कम्पेटिबिलिटी मेष महिला वृषभ पुरुष


मेष
वृषभ

ये संबंध जीत का सूचक होता है, शुक्र जो कि प्यार की देवी है, वृष पर शासन करती है और इसी बात की मेष को अपने साथी में तलाश रहती है। वृष, मेष के खुले व्यवहार की सराहना करता है और मेष, वृष के जमीन से जुड़े व्यवहार से प्रसन्न होती है। लेकिन आप लोग एक दूसरे की जिस चीज़ की प्रशंसा करते हैं, कभी-कभी उसी बात की निंदा भी करने लगते हैं। हालांकि मेष ऊर्जावान्, शासन करने वाला तथा व्यग्र स्वभाव का व्यक्तित्व है, लेकिन वृष को उसके साथ सामंजस्य बैठाने में कोई परेशानी नहीं होती। क्योंकि वृष हर काम को आराम से करना पसंद करता है, इसलिए कभी-कभी उसे मेष की जल्दबाजी की आदत की वजह से परेशानी होने लगती है। लेकिन इससे आपकी दोस्ती और भी मजबूत होती है। मेष को अपने वृष पुरुष साथी के गुस्से को भड़काने की गलती नहीं करनी चाहिए, क्योंकि गुस्से में वृष बहुत ही उग्र हो जाते हैं और फिर उन्हें शांत कर पाना बहुत ही कठिन होता है। अगर आप दोनों का रिश्ता टूटता है तो वृष बहुत ही बुरे दुश्मन साबित होते हैं। अगर ऐसा ना हो तो ये संबंध ऐसा है जैसे कि ये जोड़ी स्वर्ग से बन कर आई हो। जहाँ एक दूसरे को किसी बात पर समझाने की बात आती है तो वृष (जिसका स्वामी शुक्र है), मेष (जिसका स्वामी मंगल है) को उसकी गलतियों का एहसास करा ही देता है।


अन्य राशियों के साथ अपनी लव कम्पेटिबिलिटी जानें

एस्ट्रो लेख

Chat Now for Support