सूर्य ग्रहण 2022: जानें साल के आखिरी सूर्य ग्रहण का क्या पड़ेगा प्रभाव

Tue, Oct 25, 2022
Team Astroyogi  राजदीप पंडित के द्वारा
Tue, Oct 25, 2022
Team Astroyogi  राजदीप पंडित के द्वारा
सूर्य ग्रहण 2022: जानें साल के आखिरी सूर्य ग्रहण का क्या पड़ेगा प्रभाव

सूर्य ग्रहण प्रकृति की सबसे असाधारण घटनाओं में से एक है। साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर 2022 को होने जा रहा है। यह सूर्य ग्रहण प्रत्येक व्यक्ति के जीवन को अलग-अलग तरीके से प्रभावित करेगा। अक्टूबर में पड़ रहा यह सूर्य ग्रहण बेहद खास है क्योंकि यह दिवाली के अगले दिन होगा। आइये जानते है हमारे जीवन पर क्या रहेगा इस सूर्य ग्रहण का असर।

वैज्ञानिक कारण के अनुसार, पृथ्वी, सूर्य के चारों ओर घूमती है। जब चंद्रमा, पृथ्वी और सूर्य के बीच से गुजरता है तो वह पृथ्वी को ढक लेता है। इस कारण सूर्य की किरणें पृथ्वी तक नहीं पहुंच पाती हैं। इस दौरान सूर्य पूरी तरह या आंशिक रूप से चंद्रमा से ढका होता है। इस खगोलीय घटना को सूर्य ग्रहण कहते हैं।

कब होगा सूर्य ग्रहण 2022

25 अक्टूबर 2022 कार्तिक अमावस्या के दिन साल का आखिरी सूर्य ग्रहण होने जा रहा है। यह सूर्य ग्रहण दोपहर 02ः29 बजे से शुरू होगा और यह शाम 06ः32 बजे समाप्त होगा।

  • सूर्य ग्रहण तिथि : 25 अक्टूबर 2022, मंगलवार, कार्तिक अमावस्या के दिन।
  • ग्रहण प्रारंभ समय: दोपहर 02:29 बजे 
  • पूर्ण ग्रहण: शाम 04:30 बजे
  • ग्रहण समाप्ति समय: शाम 06:32 बजे   

व्यक्तिगत ज्योतिषिय परामर्श के लिए बात करें बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से एस्ट्रोयोगी पर।

सूर्य ग्रहण का महत्व

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सूर्य ग्रहण की कथा समुद्र मंथन से जुड़ी हुई है। ऐसा माना जाता है कि प्राचीन काल में देवताओं और असुरों ने मिलकर समुद्र मंथन किया था और समुद्र से अमृत निकाला था। इसके बाद असुरों और देवताओं के बीच उसे पहले पीने को लेकर विवाद हुआ। इसके बाद राक्षसों ने उस अमृत को देवताओं से छीन लिया। इस कारण भगवान विष्णु ने मोहिनी का रूप धारण कर राक्षसों से अमृत वापस लेकर, देवताओं को अमृत पान कराया। इसी दौरान स्वरभानु नाम के एक राक्षस ने भी देवता का रूप लेकर अमृत पान कर लिया। वहीं, चंद्र (चंद्रमा) और सूर्य ने स्वरभानु को पहचान लिया और भगवान विष्णु को इस बारे में बता दिया। भगवान विष्णु ने क्रोधित होकर स्वरभानु का सिर, धड़ से अलग कर दिया। हालांकि स्वरभानु ने पहले ही अमृत पी लिया था, इसलिए उसकी मृत्यु नहीं हुई। इस प्रकार सिर राहु नामक एक अलग इकाई बन गया, और शरीर केतु के रूप में पहचाना जाने लगा। राहु ने चंद्रमा और सूर्य को अपना शत्रु माना और सूर्य व चंद्रमा से प्रतिशोध की शपथ ली। तब से ही राहु कुछ समय के लिए सूर्य और चंद्रमा को निगल जाता है। इस कारण हर साल सूर्य और चंद्र ग्रहण लगता है।

ब्रह्माण के सभी 9 ग्रहों में सूर्य सबसे मुख्य ग्रह होने के साथ ही ऊर्जा का प्रमुख स्रोत्र है। इस कारण सूर्य ग्रहण का प्रभाव प्रत्येक राशि के लोगों पर पड़ेगा। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, सूर्य ग्रहण के 12 घंटे पहले से सूतक काल शुरू होता है। यह अवधि बेहद अशुभ मानी जाती है। सूतक, 25 अक्टूबर 2022 की सुबह 02:29 बजे से शुरू होगा। यह सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा क्योंकि भारत में सूर्य ग्रहण दिखाई देने से पहले ही सूर्यास्त हो जाएगा।

यह ग्रहण दिवाली के अगले दिन होगा क्योंकि दिवाली 24 अक्टूबर 2022 को मनाई जाएगी। इस दिन का धार्मिक महत्व बहुत अधिक है। हालांकि, आपको यह जानकर खुशी होगी कि सूर्य ग्रहण का लक्ष्मी पूजा पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। दीपावली की रात देवी-देवताओं की पूजा के लिए शक्तिशाली मानी जाती है। इस कारण कुछ लोग इस दिन तंत्र साधना भी करते हैं। सूतक काल के कारण तंत्र साधना और सिद्धि के लिए यह रात विशेष रहेगी। इस रात मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करना बहुत ही लाभकारी होगा।

ऐसी मान्यता है कि सूर्य ग्रहण के समय, गर्भवती महिलाओं को कुछ प्रतिबंधों का पालन करना होता है। गर्भवती महिलाओं को आमतौर पर इस दौरान घर के अंदर रहने की सलाह दी जाती है। उन्हें सूर्य ग्रहण के दौरान सोना नहीं चाहिए और ग्रहण की हानिकारक किरणों से बचना चाहिए। इस दिन लोगों को धार्मिक स्थलों की यात्रा करनी चाहिए, पवित्र नदियों में स्नान करना चाहिए और दान देना चाहिए।

आइए जानते हैं कि साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 2022 सभी 12 राशियों को किस प्रकार से प्रभावित करेगा।

25 अक्टूबर 2022 को सूर्य ग्रहण के दिन सूर्य तुला राशि में होंगे, जो कि सूर्य के लिए एक नीच राशि है। हालांकि शुक्र भी उसी समय तुला राशि में गोचर कर रहे हैं। ग्रहों की यह युति नीच भंग राज योग की स्थिति बनाएगी, जो इस घटना को अधिक शक्तिशाली बना देगा। तुला राशि के जातकों को इस दौरान विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। तुला राशि के जातकों को दान-पुण्य और आदित्य हृदय स्तोत्र के पाठ से विशेष लाभ होगा। मेदिनी ज्योतिष में भी सूर्य ग्रहण का विशेष महत्व है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार देश और दुनिया में होने वाली घटनाओं में अग्नि और ज्वलनशील पदार्थों का प्रभाव रहेगा। सामान्य तौर पर, वर्षा कम होगी और अनाज के दामों में वृद्धि हो सकती है। हमारे देश या दुनिया में, किसी राजनीतिक नेता को परेशानी या दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है।

सूर्य ग्रहण का मेष राशि पर प्रभाव

मेष राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण 2022 कष्टदायक रहेगा। परिवार, शादी और पार्टनरशिप से संबंधित विषय आपके लिए परेशानी का कारण बन सकते हैं। इस दौरान अधिक खर्चा न करें, आपको आर्थिक समस्या भी हो सकती है। आपकी नई पार्टनरशिप या कार्यक्षेत्र में भी कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा, दिन-प्रतिदिन होने वाले खर्चे को मैनेज करने में गलती करने से बचें।

उपाय- सूर्य देव की पूजा करें और अधिक खर्च से बचें। 

सूर्य ग्रहण का वृषभ राशि पर प्रभाव

वृषभ राशि के जातकों को स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों और कानूनी मामलों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान कुछ जातकों को अपने मूल स्थान से दूर जाकर, देश के बाहर यात्रा करनी पड़ सकती है। आपके मन की छिपी हुई चिंता और तनाव कुछ समय के लिए सामने आ सकते हैं। इसके साथ ही जो जातक विद्यार्थी हैं, वे अपना कोर्स पूरा करने के बाद विदेश भी जा सकते हैं।

उपाय- करीबियों के साथ होने वाले किसी भी प्रकार के टकराव से बचें। सफेद रंग का भोजन जरूरतमंद व्यक्ति को दान करें। 

सूर्य ग्रहण का मिथुन राशि पर प्रभाव 

इस दौरान मिथुन राशि के जातकों को अपने बच्चों से कुछ सकारात्मकता प्राप्त होगी। आप शिक्षा से जुड़े पुराने कोर्स को फिर से शुरू करेंगे और अपने जीवन के पुराने अनुभवों से सीख लेंगे। आपको सलाह है कि सोच समझ कर खर्च करें क्योंकि आपको पैसों से जुड़ी समस्याओं सामना करना पड़ सकता है। इसके साथ ही महत्वपूर्ण कार्यों में भी देरी होगी। इस कारण परिणाम आपकी अपेक्षाओं के अनुरूप नहीं रहेगा। आपको अपने पार्टनर और फैमिली के साथ अच्छे संबंध बनाये रखने में मदद की आवश्यकता पड़ सकती है।

उपाय- शिक्षा पर ध्यान दें और कोई नया काम, नौकरी या गतिविधि शुरू न करें।

सूर्य ग्रहण का कर्क राशि पर प्रभाव 

यदि आपका लंबे समय से कोई काम रुका हुआ है तो उसे फिर से शुरू करने का यह अच्छा समय है। कर्क राशि के जातक इस दौरान, नई संपत्ति या जमीन खरीद सकते हैं। यदि आप किसी कानूनी मुकदमे में फंसे हुए हैं, तो आप उसे जीत जाएंगे। कुछ जातकों को अपने कार्यक्षेत्र और समाज में राजनीति का सामना करना पड़ेगा। इसके साथ ही अगर करियर की बात करें तो यदि आप राजनीति से जुड़े हैं तो आप अधिक सफल होंगे। इसके अलावा आपको सतर्क रहने की आवश्यकता है, क्योंकि आप आसानी से दूसरों के प्रभाव में आ सकते हैं। इस समय आप अधिक व्यावहारिक और धनवान हो सकते हैं।

उपाय- दूसरों को अपनी कमजोरी न बताएं। इसके साथ ही किसी के सामने महत्वपूर्ण चर्चा करने से भी बचें।

सूर्य ग्रहण का सिंह राशि पर प्रभाव

सिंह राशि के जातकों की प्रोफेशनल लाइफ के लिए यह समय काफी महत्वपूर्ण रहेगा। इस दौरान आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ लंबी व छोटी यात्राओं का आनंद ले सकते हैं। इसके साथ ही पैसों के मामले में आपको अपने भाई-बहनों का सहयोग प्राप्त होगा। इसके अलावा, इस दौरान आप नई संपत्ति का सौदा कर सकते हैं। आप लेखन और साहित्य के क्षेत्र में प्रसिद्ध होंगे। आपकी फैमली और लव लाइफ अच्छी रहेगी।

उपाय- अपने भाई-बहनों और पड़ोसियों के प्रति ईर्ष्या और गलतफहमी से बचें।

सूर्य ग्रहण का कन्या राशि पर प्रभाव

इस ग्रहण के दौरान, कन्या राशि के जातकों की कमाई का स्रोत अधिक अच्छा हो जाएगा। आपके पास एक से अधिक इनकम सोर्स होंगे, लेकिन आपको अपने टैक्स के प्रति भी ईमानदार रहना चाहिए। कुछ जातकों को मानहानि का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान अपने शब्दों पर नियंत्रण रखें क्योंकि आपका लहजा कठोर रहेगा। इसके अलावा जिन जातकों की शादी हो चुकी है, उनका वैवाहिक जीवन ठीक रहेगा। वहीं, अन्य जातकों को लव लाइफ में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इस अवधि में कुछ जातक अपनी दूसरी शादी के बारे में सोचना शुरू कर सकते हैं। इसके साथ ही जो लोग सरकारी क्षेत्र से जुड़े हैं, उनका तबादला हो सकता है या उनकी पोस्टिंग के आसपास कई प्रकार की गतिविधियां हो सकती हैं।

उपाय- अहंकार से बचें और अपने शब्दों पर नियंत्रण रखें। इसके साथ ही अपने पिता, दादा, शिक्षक और गुरु के साथ अच्छे संबंध बनाएं।

सूर्य ग्रहण का तुला राशि पर प्रभाव 

सूर्य ग्रहण के समय तुला राशि के जातकों का स्वभाव आक्रामक, कठोर और स्थिर रह सकता है। इसके साथ ही वे अधिक स्वार्थी भी बन सकते हैं। इस गोचर में राजनीति और सामाजिक जीवन से जुड़े जातक अधिक प्रसिद्धि प्राप्त करेंगे। आपके पिता का स्वास्थ्य, आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है। इस दौरान आपको कुछ छिपी हुईं या पुरानी बीमारियों का भी सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा आपकी मैरिड और लव लाइफ दोनों ही अच्छी व स्थिर रहेंगी। कुछ जातकों को संतान का सुख भी प्राप्त होगा।

उपाय- आधिकारी, सीनियर्स और प्रभावशाली लोगों के साथ टकराव से बचें। 

सूर्य ग्रहण का वृश्चिक राशि पर प्रभाव

यह सूर्य ग्रहण, वृश्चिक राशि के लोगों को अधिक शक्तिशाली बनने में सहयोगी साबित होगा। इस अवधि में आप अपने प्रतिद्वंद्वियों से घिरे रहेंगे, लेकिन आप उन पर जीत हासिल करेंगे। वहीं, आप किसी तरह के सीक्रेट कार्य को भी कर सकते हैं। इस दौरान आप संपत्ति और निवेश के बारे में, अपने पिता की राय से असहमत हो सकते हैं। पर्सनल लाइफ में आप एक से अधिक रिलेशन बनाएंगे। इसके साथ ही देश से बाहर यात्रा और शिक्षा से जुड़ी गतिविधियों में आपके शामिल होने की भी संभावना है।

उपाय- अपने खान-पान पर नियंत्रण रखें और गैर जरूरी यात्राओं से बचें।

सूर्य ग्रहण का धनु राशि पर प्रभाव 

सूर्य ग्रहण 2022 के दौरान धनु राशि के लोग एक अच्छे नेता के रूप में उभरेंगे और अपने सपनों को पूरा करने में सक्षम होंगे। इसके साथ ही आपको सरकारी क्षेत्र से भी बहुत लाभ होगा और धन के मामले में आपकी स्थिति अच्छी रहेगी। वहीं, शेयर बाजार और स्टॉक निवेश भी आपको अच्छा रिटर्न दे सकता है। आपका पारिवारिक जीवन, रिलेशन और शिक्षा आपको हैप्पी और मजबूत बनाएगी। इसके अलावा, आपके पास एक से अधिक इनकम सोर्स होंगे। 

उपाय- इस समय इन्वेस्टमेंट सोच समझ कर करें। इसके साथ ही अपनी आंखों और पैरों का खास ध्यान रखें।

सूर्य ग्रहण का मकर राशि पर प्रभाव 

इस सूर्य ग्रहण के दौरान मकर राशि के जातक अपने नए कार्यों की शुरुआत करेंगे। इस अवधि में आपका जीवन अधिक व्यावहारिक रहेगा। आप अपने कार्यक्षेत्र में प्रसिद्धि प्राप्त करेंगे। इसके साथ ही आप किसी राजनीतिक दल से जुड़कर, सामाजिक गतिविधियों में भी भाग ले सकते हैं। इस कारण आपके अपने स्थानीय क्षेत्र में लीडर बनने की भी संभावना है। यदि आपके परिवार में लंबे समय से कोई विवाद चल रहा है तो वह इस अवधि में सुलझ जाएगा। आपको बिजनेस में नई पार्टनरशिप से फिलहाल बचना चाहिए। इसके अलावा आपका अपने कौशल और अपनी क्षमताओं के कारण आत्मविश्वास भी बढ़ेगा ।

उपाय- अपने पार्टनर, सीनियर या बॉस के साथ होने वाली किसी भी प्रकार की गलतफहमी से बचें। भावुकता में आकर कोई बड़ी चुनौती न लें।

सूर्य ग्रहण का कुंभ राशि पर प्रभाव

सूर्य ग्रहण, कुंभ राशि के जातकों के पिता, उनके प्रोफेशन और उनकी प्रसिद्धि के लिए अच्छा नहीं रहेगा। आप अपने फैमिली बिजनेस और काम पर अधिक ध्यान फोकस करेंगे। आप इस दौरान विदेश यात्रा कर सकते हैं और अपनी पढ़ाई भी शुरू कर सकते हैं। जो विद्यार्थी मास्टर डिग्री कर रहें हैं, उनके लिए यह समय लाभदायक होगा। इसके अलावा धार्मिक गतिविधियों से जुड़ना भी आपके लिए अच्छा रहेगा। जो जातक दूसरी शादी का इंतजार कर रहे हैं, उन्हें सफलता मिल सकती है। इसके साथ ही कुछ जातकों को उनके कार्यक्षेत्र में पुरस्कार और प्रशंसा प्राप्त होगी।

उपाय- अपने पिता और अन्य वरिष्ठ लोगों व उनके विचारों का सम्मान करें। अहंकारी होने से बचें, सभी के साथ विनम्रता से पेश आएं। 

सूर्य ग्रहण का मीन राशि पर प्रभाव

मीन राशि के जातकों को पारिवारिक संपत्ति और विरासत की प्राप्ति होगी। इस बात की भी संभावना है कि इस राशि के जातक सीक्रेट कार्यों से भी धन कमाएंगे। इस कारण अचानक धन लाभ की भी संभावना है। आपकी फैमिली और प्रोफेशनल लाइफ में भ्रम की स्थिति पैदा हो सकती है। रिसर्च कार्यों में लगे जातक इस गोचर के दौरान अधिक सफल होंगे। परिवार में नए सदस्यों के जुड़ने से आपका परिवार बढ़ेगा और आप एक सामान्य पारिवारिक जीवन का आनंद प्राप्त करेंगे।

उपाय- पारिवारिक मामलों में क्लेश से बचें। आसानी से धोखे में न आएं और पैसों के लेन-देन को लेकर अधिक सतर्क रहें।

व्यक्तिगत परामर्श के लिए अभी बात करें, राजदीप पंडित से केवल एस्ट्रोयोगी पर।

✍️ By- राजदीप पंडित 

राजदीप पंडित के द्वारा
Planetary Movement

आपके पसंदीदा लेख

नये लेख


राजदीप पंडित के द्वारा
Planetary Movement
आपका अनुभव कैसा रहा
facebook whatsapp twitter
ट्रेंडिंग लेख

यह भी देखें!

chat Support Chat now for Support