Budh Rashi Parivartan 2022: 02 जुलाई को बुध का मिथुन राशि में प्रवेश

bell icon Fri, Jul 01, 2022
एस्ट्रो पुजेल एस्ट्रो पुजेल के द्वारा
Budh Rashi Parivartan 2022: 2 जुलाई को बुध का मिथुन राशि में प्रवेश

Budh Rashi Parivartan 2022: 02 जुलाई 2022 को ग्रहों में राजकुमार कहे जाने वाले बुध वृषभ राशि से अपनी स्वराशि राशि मिथुन में प्रवेश करेंगे। बुध मिथुन राशि के स्वामी हैं और अपनी राशि गोचर से क्षमता में वृद्धि होती है तथा इसके साथ ही शुभ फल प्राप्त होते। 

वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह लोगों को बुद्धि, सकारात्मक विचार और धन प्रदान करता है। जिन लोगों पर बुध का सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, वे अविश्वसनीय रूप से तेज दिमाग वाले होते हैं। ये व्यक्ति गणनात्मक गुण वाले होते हैं। ये जातक मौज-मस्ती करने वाले और खाने के शौकीन भी होते हैं। जातक बैंकिंग, मार्केटिंग, ब्रोकरेज आदि जैसे क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त कर सकते हैं। जिन लोगों की जन्म कुंडली में बुध कमजोर है, वे स्थिरता के मुद्दों का 

मिथुन राशि में बुध का गोचर 2022 हमारे जीवन को कैसे प्रभावित करेगा?

आइए जानते हैं कि मिथुन राशि में बुध गोचर का विभिन्न राशियों के लोगों के जीवन में क्या बड़े बदलाव होंगे। यह लेख आपको ऐसे उपाय भी देगा जो इस अवधि के दौरान नकारात्मक शक्तियों से लड़ने में आपकी मदद करेगा।

जानना चाहते हैं कि ग्रहों का गोचर आपके जीवन को कैसे प्रभावित कर सकता है? यदि हां, तो अभी एस्ट्रोयोगी ज्योतिषियों से जुड़ें।

बुध ग्रह भारतीय समयानुसार 2 जुलाई 2022 को सुबह 8 बजकर 22 मिनट पर मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे। तो आइए जानते हैं इस बुध गोचर 2022 और इसके प्रभावों के बारे में।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव

बुध ग्रह मेष जातकों के तीसरे भाव में गोचर करेंगे। इस गोचर के कारण आपको अपनी मेहनत का फल आखिरकार अब मिलेगा और आपको सफलता मिलेगी। इस अवधि में आप अपने स्वास्थ्य पर काफी खर्च करेंगे। किसी को उधार न दें, नहीं तो इस दौरान आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है। धन अटक सकता है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए अनुकूल रहेगा।

उपाय- सूर्य मंत्र का जाप करें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव

बुध ग्रह आपके दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस अवधि के दौरान, आपके पारिवारिक संपत्ति से जुड़े मामले सुलझेंगे, और आप वृषभ जातक आराम महसूस करेंगे। रचनात्मकता के क्षेत्र से जुड़े लोगों को इस दौरान बेहतरीन अवसर प्राप्त होंगे। साथ ही इस दौरान धन संबंधी समस्याओं का समाधान भी होगा। आपका बच्चा आपको कोई खुशखबरी देगा, जिससे आप काफी खुश होंगे। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए अनुकूल रहेगा।

उपाय- भगवान गणेश की पूजा करें।

मिथुन राशि पर बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव

मिथुन जातक बुध आपके प्रथम भाव में गोचर करेंगे। यह अवधि आपके लिए असाधारण रहेगी। आपके नाम और प्रसिद्धि में वृद्धि होगी और आपको अपने जीवन के हर पहलू में सफलता मिलेगी। निवेश के लिए भी यह एक उत्कृष्ट अवधि है। माता का अच्छा सहयोग मिलेगा। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए शानदार रहेगा।

उपाय- घर से निकलने से पहले माता का आशीर्वाद लें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव

बुध का गोचर कर्क राशि के जातकों के बारहवें भाव में होगा। आपके अधिक खर्च के कारण आपको काफी तनाव का सामना करना पड़ेगा। जो लोग विदेश जाना चाहते हैं वे ऐसा करने में सफल होंगे। भाई-बहनों का अच्छा सहयोग मिलेगा। आप अपने परिवार के साथ धार्मिक यात्राओं पर भी जा सकते हैं। कुल मिलाकर आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण रखना होगा।

उपाय- भगवान शिव का अभिषेक करें और शिव मंत्र का जाप करें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव

बुध ग्रह आपके ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान सिंह जातक आपकी सभी आर्थिक समस्याएं दूर होंगी। परिवार से भी आपको भरपूर सहयोग मिलेगा। इस अवधि के दौरान काम से संबंधित यात्राएं कार्ड पर हैं, और आपकी यात्रा सफल होगी। आपको अपनी मेहनत का बेहतरीन परिणाम मिलेगा। कोई भी नया काम शुरू करने के लिए यह समय अनुकूल है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए काफी सफल रहेगा।

उपाय- हनुमान जी की पूजा करें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव

कन्या राशि वालों के लिए बुध उनकी कुंडली के दसवें भाव में गोचर करेगा। यह समय आपके लिए सफलता दिलाने वाला रहेगा। आप बहुत अच्छे संबंध बनाएंगे जो आपके लिए फायदेमंद होंगे। सरकार से जुड़ी कोई भी समस्या दूर होगी। इस दौरान किसी रचनात्मक क्षेत्र से जुड़े लोगों को सफलता मिलेगी। आपको अपनी मेहनत का बेहतरीन परिणाम मिलेगा। यह समय आपके लिए अनुकूल रहेगा।

उपाय- शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की 3 बार परिक्रमा करें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव

तुला जातक बुध आपके नवम भाव में गोचर करने वाला है। इस अवधि में आपको अपनी मेहनत का अच्छा परिणाम मिलेगा। आपको जो कुछ भी आप चाहते हैं उसे हासिल करने के लिए आपको कड़ी मेहनत भी जारी रखनी होगी। अनावश्यक खर्चों के कारण आप चिंतित और तनावग्रस्त रहेंगे। इस दौरान आपको पिता का पूरा सहयोग मिलेगा। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए अच्छा रहेगा।

उपाय- देवी लक्ष्मी को बेसन के लड्डू का भोग लगाएं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव

बुध ग्रह वृश्चिक राशि वालों के आठवें भाव में गोचर करेंगे। कुछ नया शुरू करने से पहले आपको इस अवधि के दौरान हमेशा अपने शुभचिंतकों से सलाह लेनी चाहिए। दुर्भाग्य से, आप अपने परिवार या दोस्तों के कारण बहुत तनाव का सामना कर सकते हैं। इस दौरान अपने गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें। कुल मिलाकर इस अवधि में आपको समझदारी से काम लेना होगा।

उपाय- रात के समय गली के कुत्तों को खाना खिलाएं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव

धनु राशि के जातकों के लिए बुध ग्रह सातवें भाव में गोचर करेगा। किसी भी प्रकार के व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। आपने जो मेहनत की है उसका आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। जो लोग साझेदारी में काम कर रहे हैं उन्हें सफलता मिलेगी। आपका जीवन साथी आपको भरपूर सहयोग देगा और आपके और आपके साथी के बीच प्रेम में वृद्धि होगी। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए अनुकूल रहेगा।

उपाय- भगवान कृष्ण की पूजा करें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव

बुध आपके छठे भाव में गोचर करेगा। नौकरी वाले वेतन भोगी पेशेवरों को इस अवधि में सफलता मिलेगी। उनके प्रमोशन का इंतजार कर रहे लोगों को इस दौरान आखिरकार यह मिल ही जाएगा। तनाव के कारण आप मकर जातक कमजोरी महसूस करेंगे, इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए। इस दौरान किसी को उधार न दें, नहीं तो आपको नुकसान हो सकता है। कुल मिलाकर यह अवधि आपके लिए स्वीकार्य अवधि होगी।

उपाय- शनि मंत्र का जाप करें।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव

कुंभ जातक बुध आपके पंचम भाव में गोचर करने जा रहा है। रचनात्मकता के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। जो लोग प्रेम विवाह करना चाहते हैं वे इस दौरान कर सकते हैं, क्योंकि भाग्य आपका साथ देगा। जो लोग उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाना चाहते हैं वे इस दौरान जा सकते हैं। विद्यार्थियों के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। कुल मिलाकर अगर आप इस अवधि का समझदारी से इस्तेमाल करेंगे तो आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे।

उपाय- अपने घर के मुख्य द्वार पर सरसों के तेल से भरा दीया जलाएं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव

मीन जातक बुध आपके चतुर्थ भाव में गोचर करने वाला है। इस अवधि के दौरान आपको अपने कार्यस्थल पर बहुत प्रशंसा मिलेगी। निवेश करने के लिए यह समय अनुकूल है। ससुराल पक्ष से भी आपको अच्छा सहयोग मिलेगा। इस दौरान अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। जो लोग काम शुरू करना चाहते हैं या साझेदारी में अपना व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, वे ऐसा कर सकते हैं क्योंकि यह अवधि आपके लिए अनुकूल है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए शानदार रहेगा।

उपाय- लक्ष्मी नारायण पूजा करें।

मिथुन राशि 2022 में बुध का गोचर हमारे जीवन में कई बड़े बदलाव लाएगा और संभावित विकास के अवसरों का संकेत दे रहा है। हालांकि, आपको पता होना चाहिए कि मिथुन राशि में बुध के गोचर का प्रभाव प्रत्येक व्यक्ति पर अलग-अलग होगा।

मिथुन राशि में बुध का गोचर आपके जीवन को कैसे प्रभावित करेगा, इसके बारे में जानने के लिए एस्ट्रोयोगी एस्ट्रो पुजेल से संपर्क करें।

लेखक- एस्ट्रो पुजेल

 

chat Support Chat now for Support
chat Support Support