Skip Navigation Links
शुक्र गोचर 2017

शुक्र गोचर 2017 - Shukra Gochar 2017


शुक्र जिसे अंग्रेजी में वीनस यानि सुंदरता की देवी कहा जाता है। जिसे ज्योतिष में स्त्री ग्रह भी माना जाता है। जो वृषभ व तुला राशियों के स्वामी हैं। जिन्हें दैत्यगुरु भी माना जाता है। जो जातक की कुंडली में विवाह से लेकर संतान तक के योग बनाते हैं। लाभ का कारक भी शुक्र को माना जाता है। जीवन में सुख-समृद्धि भी शुक्र के शुभ प्रभाव से आती है। शुक्र जातक में कला के प्रति आकर्षण पैदा करते हैं। कलात्मकता का विकास करते हैं। शुक्र का जातक की कुंडली में कमजोर या मजबूत होना बहुत मायने रखता है मीन राशि में शुक्र उच्च के होते हैं तो कन्या राशि में इन्हें नीच का माना जाता है। शुक्र जो सूर्योदय से पहले और सूर्यास्त के बाद आकाश में अपनी चमक से एक विशेष पहचान रखते हैं। शनि, बुध व केतु के साथ इनकी मित्रता है तो सूर्य, चंद्रमा व राहू के साथ इनका शत्रुवत संबंध है। मंगल व बृहस्पति के साथ इनका संबंध सामान्य है। शुक्र ही वह ग्रह हैं जिन्हें हम भोर का तारा कहते हैं। शुक्र का राशि परिवर्तन करना ज्योतिष शास्त्र के नज़रिये से एक अहम गतिविधि है। इस पेज पर शुक्र ग्रह के गोचर के बारे में जानकारी तो मिलेगी ही साथ ही आप यह भी जान पायेंगें शुक्र कब राशि परिवर्तन करेंगें और आपकी राशि पर शुक्र के गोचर का क्या प्रभाव रहेगा?


आपकी कुंडली के अनुसार ग्रहों की दशा क्या कहती है, जानें एस्ट्रोयोगी ज्योतिषाचार्यों से। अभी परामर्श करें।


शुक्र गोचर (Venus Transit) 2017 तिथि व समय

शुक्र गोचर कुंभ से मीन 27 जनवरी 2017 (शुक्रवार) 20:31
शुक्र गोचर मीन से मेष 31 मई 2017 (बुधवार) 09:11
शुक्र गोचर मेष से वृषभ 29 जून 2017 (बृहस्पतिवार) 19:47
शुक्र गोचर वृषभ से मिथुन 26 जुलाई 2017 (बुधवार) 17:20
शुक्र गोचर मिथुन से कर्क 21 अगस्त 2017 (सोमवार) 11:03
शुक्र गोचर कर्क से सिंह 15 सितंबर 2017 (शुक्रवार) 10:43
शुक्र गोचर सिंह से कन्या 09 अक्तूबर 2017 (सोमवार) 21:37
शुक्र गोचर कन्या से तुला 03 नवंबर 2017 (शुक्रवार) 00:12
शुक्र गोचर तुला से वृश्चिक 26 नवंबर 2017 (रविवार) 22:20
शुक्र गोचर वृश्चिक से धनु 20 दिसबंर 2017 (बुधवार) 18:43