वृषभ राशिफल 2023 - Vrishabha Rashifal 2023

वृषभ राशिफल 2023 - Vrishabha Rashifal 2023

वृषभ राशि के जातकों के लिए यह साल आय के मामले में काफी कुछ लेकर आने वाला है। बहुत से उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है, क्योंकि इस वर्ष शनि आपकी कुंडली में भाग्य और कार्यक्षेत्र के स्वामी होकर दशम भाव में गोचर करेंगे। इस वजह से आपके कार्यक्षेत्र पर बहुत प्रभाव पड़ेगा, जो कि सकारात्मक रहने वाला है। आपके व्यापार में उन्नति देखने को मिलेगी। भाग्य का साथ मिलता रहा तो हर काम पूर्ण होगा। आपकी आमदनी तो बढ़ेगी, साथ ही साथ खर्च भी बढ़ेंगे।  इस वर्ष में शनि भाग्य के मालिक होने की वजह से आपको बहुत सावधानियां रखनी पड़ेगी। यदि किसी कारणवश अपने अपने शनि को खराब किया तो आपका भाग्य खराब हो जाएगा और आपको बहुत सी मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है।

इसी के साथ गुरु आपकी कुंडली के 11वें  और 12वीं  में भाव में गोचर करेंगे। 22 अप्रैल तक गुरु आप के ग्यारहवें भाव में गोचर करेंगे, जिसके फलस्वरूप आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होगी तथा आय के नए स्तोत्र मिलेंगे। आपके संबंध विदेशों से या विदेशी कंपनियों से स्थापित हो सकते हैं। जिससे आपको आश्चर्यजनक फायदे देखने को मिलेंगे। क्योंकि ग्यारहवां भाव इच्छापूर्ति का भी होता है, इसलिए 22 अप्रैल से पहले यदि कुछ भौतिक चीजों से जुड़ी इच्छाएं हैं, तो वह भी पूर्ण हो सकती हैं। 22 अप्रैल से गुरु बारहवें घर में गोचर करेंगे। जहां उनका योग राहु से होगा। यहां पर गुरु चांडाल दोष जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाएगी। आपके खर्चों में बढ़ोतरी होगी। बेवजह व्यय बढ़ेंगे। इस समय में खास तौर पर ध्यान रखें कि आपको किसी को उधार नहीं देना अन्यथा आपको नुकसान हो सकता है। इस समय में आपको स्वास्थ्य का भी खासतौर पर ध्यान रखना होगा। चिकित्सालय में धन खर्च होता देखा जा रहा है। वर्ष के अंत में अक्टूबर माह में राहु और केतु अपना राशि परिवर्तन करेंगे। जिसके फलस्वरूप अचानक हो रहे खर्चे रुक जाएंगे तथा अचानक धन लाभ की स्थिति बनेगी। स्वास्थ्य में सुधार होगा।

इस वर्ष अक्टूबर तक राहु आपके द्वादश तथा केतु आपके छठे भाव में गोचर करेंगे। जिसके फलस्वरूप आपको जीवन में अचानक उतार-चढ़ाव महसूस होंगे। यहां प्रभाव आपके धन पर पड़ सकता है, क्योंकि राहु जब द्वादश भाव में आते हैं, तब अचानक खर्चे की स्थिति बनाते हैं। क्योंकि द्वादश भाव बीमारी और खर्च को प्रस्तुत करता है। इसलिए अक्टूबर तक आपको अपने या आपके किसी परिवारजन की बीमारी पर धन खर्च करना पड़ सकता है। क्योंकि यह भाव विदेश से भी संबंध रखता है, इसलिए जो जातक विदेश यात्रा करना चाहते हैं, उन्हें इस अवधि में सुनहरा अवसर प्राप्त होगा। उनका धन विदेश यात्रा पर खर्च हो सकता है। इस अवधि में आपको एक बात का खासतौर पर ध्यान रखना होगा, कि आपको अपना धन कहीं उधार नहीं देना अन्यथा वह धन हानि हो सकती है। केतु के छठे भाव में विराजमान होने से यहां कर्ज की स्थिति बनती है। तो इस अवधी में ना तो आपको उधार लेना है, और ना ही उधार देना है, क्योंकि छठा भाव रोग, ऋण और शत्रु को प्रस्तुत करता है। इसलिए इस अवधि में आपके शत्रु भी आप पर हावी होंगे। इस अवधि में आपको पेट संबंधी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। जिस कारण वश आप को अस्पताल में भर्ती भी होना पड़ सकता है। इस वर्ष अक्टूबर से पहले आपके सर्जरी के योग भी बनते हैं।

अक्टूबर के बाद राहु आप के एकादश भाव में तथा केतु आपके पंचम भाव में गोचर करेंगे। जो स्थिति काफी लाभदायक बनती है। इस अवधि में आपको धन लाभ के साथ-साथ आपकी इच्छा पूर्ति का वरदान भी प्राप्त होगा। इस अवधि में विदेश से लाभ की स्थिति बनती है, आपको विदेश से नाता स्थापित हो सकता है। वर्ष के अंतिम 2 महीनों में आपको काफी सफलता प्राप्त होंगी। शारीरिक, मानसिक और आर्थिक तौर पर आपको अत्यधिक राहत महसूस होगी। जिस जद्दोजहद से आप अक्टूबर तक परेशान रहे हैं, उस जद्दोजहद से आपको राहत मिलेगी। आइए जानते हैं विस्तार से कि आपको व्यापार, नौकरी, रिलेशनशिप, हेल्थ एंड वेल्थ में किस तरह का फल मिलेगा।

✍️ By- टीम एस्ट्रोयोगी

2023 में प्रेम, करियर, नौकरी या व्यापार एवं आर्थिक समस्याओं के लिए ज्योतिष मार्गदर्शन हेतु एस्ट्रोयोगी पर प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य से परामर्श करें।
अपनी राशि के वार्षिक राशिफल 2023 को और अधिक विस्तार से जानने के लिए नीचे क्लिक करें।
वृषभ प्रेम राशिफल 2023 वृषभ करियर राशिफल 2023 वृषभ वित्त राशिफल 2023 वृषभ पारिवारिक राशिफल 2023

अपनी राशि के वार्षिक राशिफल 2023 को और अधिक विस्तार से जानने के लिए नीचे क्लिक करें।

वृषभ प्रेम राशिफल 2023

और पढ़ें

वृषभ करियर राशिफल 2023

और पढ़ें

वृषभ वित्त राशिफल 2023

और पढ़ें

वृषभ पारिवारिक राशिफल 2023

और पढ़ें


chat Support Chat now for Support