आश्लेषा नक्षत्र


अर्थ: आलिंगन
देव: सर्प

आश्लेषा नक्षत्र में आपको जन्म हुआ है तो आप साधन-संपन्न तथा होशियार व्यक्ति हैं। आपके सोचने व कार्य करने की क्षमता बहुत तीव्र है। आप में परिस्थितियों के अनुसार खुद को ढालने व बदलने की विलक्षण प्रतिभा है। आपकी रुचियां भी बहुत विस्तृत हैं, जिसके लिए आपको नियमित प्रोत्साहन की आवश्यकता पड़ती है। इस कारण आप जीवन में कई बार अपना करियर भी बदल सकते हैं। आप में से बहुत से लोग तो पैदाइशी लीडर होते हैं तथा आपके भीतर सबसे बेहतरीन होने की तीव्र इच्छा होती है। साथ ही आप चाहते हैं कि आपको अपनी उपलब्धियों के लिए पहचान मिले। आपकी बातचीत करने की कला भी उत्कृष्ट है और इसलिए आप एक अच्छे वक्ता बन सकते हैं। निवेश करने के मामले में आपको सावधान रहना चाहिए, नहीं तो आपको भारी क्षति हो सकती है। स्वभाव से आप बहुत रहस्यमयी होते हैं तथा प्रायः समूह में काम करते समय आपको अकेलापन महसूस होता है। कई बार आप लोगों की हरकतों पर बिना किसी ठोस कारण ही शक करने लग जाते हैं। आपको अपने करियर में विभिन्नता की तलाश रहती है। वास्तव में राजनीति, अभिनय, लेखन तथा पत्रकारिता आप के लिए उत्तम करियर विकल्प हैं। आपका वैवाहिक जीवन सामन्जस्य व आपसी तालमेल से भरपूर रहेगा तथा आपका जीवन साथी आपके जीवन का केन्द्र बिन्दु रहेगा। आपको जोड़ों का दर्द, शारीरिक थकान तथा नाड़ी सम्बन्धी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

27 नक्षत्रों के नाम इस प्रकार हैं:

आज का पंचांग

आज का पंचांग

आज का पंचांग यानि दैनिक पंचांग अंग्रेंजी में Daily Panchang भी कह सकते हैं। दिन की शुरुआत अच्छी हो, जो ...

और पढ़ें
आज की तिथि

आज की तिथि

तिथि पंचांग का सबसे मुख्य अंग है यह हिंदू चंद्रमास का एक दिन होता है। तिथि के आधार पर ही सभी...

और पढ़ें
आज का दिन

आज का दिन

सप्ताह के प्रत्येक दिवस को वार के रूप में जाना जाता है। वार पंचांग के गठन में अगली कड़ी है। एक सूर्योदय से ...

और पढ़ें
आज का शुभ मुहूर्त

आज का शुभ मुहूर्त

पंच मुहूर्त में शुभ मुहूर्त, या शुभ समय, वह समय अवधि जिसमें ग्रह और नक्षत्र मूल निवासी के लिए अच्छे या...

और पढ़ें
आज का नक्षत्र

आज का नक्षत्र

पंचांग में नक्षत्र का विशेष स्थान है। वैदिक ज्योतिष में किसी भी शुभ कार्य को करने से पूर्व नक्षत्रों को देखा जाता है।...

और पढ़ें
आज का चौघड़िया

आज का चौघड़िया

चौघड़िया वैदिक पंचांग का एक रूप है। यदि कभी किसी कार्य के लिए शुभ मुहूर्त नहीं निकल पा रहा हो या कार्य को ...

और पढ़ें
आज का राहु काल

आज का राहु काल

राहुकाल भारतीय वैदिक पंचांग में एक विशिष्ट अवधि है जो दैनिक आधार पर होती है। यह समय किसी भी विशेष...

और पढ़ें
आज का शुभ होरा

आज का शुभ होरा

वैदिक ज्योतिष दिन के प्रत्येक घंटे को होरा के रूप में परिभाषित करता है। पाश्चात्य घड़ी की तरह ही, हिंदू वैदिक ...

और पढ़ें
आज का शुभ योग

आज का शुभ योग

पंचांग की रचना में योग का महात्वपूर्ण स्थान है। पंचांग योग ज्योतिषाचार्यों को सही तिथि व समय की गणना करने में...

और पढ़ें
आज के करण

आज के करण

वैदिक ज्योतिष के अनुसार व्रत, पर्व को निर्धारित करने में पंचांग और मुहूर्त का महत्वपूर्ण स्थान है। इनके बिना, हिंदू ...

और पढ़ें
पर्व और त्यौहार

पर्व और त्यौहार

त्यौहार हमारे जीवन का अहम हिस्सा हैं, त्यौहारों में हमारी संस्कृति की महकती है। त्यौहार जीवन का उल्लास हैं त्यौहार...

और पढ़ें
राशि

राशि

वैदिक ज्योतिष में राशि का विशेष स्थान है ही साथ ही हमारे जीवन में भी राशि महत्वपूर्ण स्थान रखती है। ज्योतिष...

और पढ़ें


Chat Now for Support