पुष्य नक्षत्र


अर्थ: पोषण
देव: बृहस्पति

यह नक्षत्र सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। आपका जन्म इस नक्षत्र में हुआ है तो आप समझदार, विनम्र व आध्यात्मिक व्यक्तित्व के स्वामी होते हैं। आप निःस्वार्थ दूसरों की मदद करते हैं। आप स्वावलंबी व स्वाधीन व्यक्ति हैं। आप का झुकाव बौद्धिक कार्यों की ओर अधिक रहता है। आप गहरी राजनैतिक व मानवीय धारणाओं से परिपूर्ण होते हैं। आप बिना शर्त दूसरों की मदद करते हैं तथा पिछड़ों के तो आप विशेष हिमायती हैं। लेकिन, आप को सतर्क रहना चाहिए, क्योंकि कुछ लोग अपने स्वार्थ के लिए आपका इस्तेमाल कर सकते हैं। आप साफ दिल व स्पष्ट व्यक्ति हैं तथा औरों से भी आप इसी व्यवहार की उम्मीद रखते हैं। आपके लिए औषधि, समाज सेवा व स्वास्थय सेवा सर्वोत्तम करियर विकल्प हो सकते हैं।

खुशियां देना, हंसी-मजाक, पार्टी व समारोह के आयोजन जैसे कार्यों से दूसरों का उत्साह बढ़ाने की आप की योग्यता आप के लिए सबसे अनुकूल है। आप के राजनैतिक व सामाजिक कार्यों को परिवार से अधिक महत्व देने के कारण आप कुछ परेशानी में पड़ सकते हैं। इसलिए, अच्छा होगा कि आप संतुलित दृष्टिकोण अपनाएं व अपने प्रियजनों की आवश्यकताओं के प्रति संवेदनशील बनें। आप पित्त की पथरी, पेट संबंधी अल्सर या त्वचा की बीमारियों से घिर सकते हैं।

27 नक्षत्रों के नाम इस प्रकार हैं:

आज का पंचांग

आज का पंचांग

आज का पंचांग यानि दैनिक पंचांग अंग्रेंजी में Daily Panchang भी कह सकते हैं। दिन की शुरुआत अच्छी हो, जो ...

और पढ़ें
आज की तिथि

आज की तिथि

तिथि पंचांग का सबसे मुख्य अंग है यह हिंदू चंद्रमास का एक दिन होता है। तिथि के आधार पर ही सभी...

और पढ़ें
आज का दिन

आज का दिन

सप्ताह के प्रत्येक दिवस को वार के रूप में जाना जाता है। वार पंचांग के गठन में अगली कड़ी है। एक सूर्योदय से ...

और पढ़ें
आज का शुभ मुहूर्त

आज का शुभ मुहूर्त

पंच मुहूर्त में शुभ मुहूर्त, या शुभ समय, वह समय अवधि जिसमें ग्रह और नक्षत्र मूल निवासी के लिए अच्छे या...

और पढ़ें
आज का नक्षत्र

आज का नक्षत्र

पंचांग में नक्षत्र का विशेष स्थान है। वैदिक ज्योतिष में किसी भी शुभ कार्य को करने से पूर्व नक्षत्रों को देखा जाता है।...

और पढ़ें
आज का चौघड़िया

आज का चौघड़िया

चौघड़िया वैदिक पंचांग का एक रूप है। यदि कभी किसी कार्य के लिए शुभ मुहूर्त नहीं निकल पा रहा हो या कार्य को ...

और पढ़ें
आज का राहु काल

आज का राहु काल

राहुकाल भारतीय वैदिक पंचांग में एक विशिष्ट अवधि है जो दैनिक आधार पर होती है। यह समय किसी भी विशेष...

और पढ़ें
आज का शुभ होरा

आज का शुभ होरा

वैदिक ज्योतिष दिन के प्रत्येक घंटे को होरा के रूप में परिभाषित करता है। पाश्चात्य घड़ी की तरह ही, हिंदू वैदिक ...

और पढ़ें
आज का शुभ योग

आज का शुभ योग

पंचांग की रचना में योग का महात्वपूर्ण स्थान है। पंचांग योग ज्योतिषाचार्यों को सही तिथि व समय की गणना करने में...

और पढ़ें
आज के करण

आज के करण

वैदिक ज्योतिष के अनुसार व्रत, पर्व को निर्धारित करने में पंचांग और मुहूर्त का महत्वपूर्ण स्थान है। इनके बिना, हिंदू ...

और पढ़ें
पर्व और त्यौहार

पर्व और त्यौहार

त्यौहार हमारे जीवन का अहम हिस्सा हैं, त्यौहारों में हमारी संस्कृति की महकती है। त्यौहार जीवन का उल्लास हैं त्यौहार...

और पढ़ें
राशि

राशि

वैदिक ज्योतिष में राशि का विशेष स्थान है ही साथ ही हमारे जीवन में भी राशि महत्वपूर्ण स्थान रखती है। ज्योतिष...

और पढ़ें


Chat Now for Support