हस्त नक्षत्र


अर्थ: हाथ
देव: आदित्य

सामान्यतः इस नक्षत्र में जन्मे जातको का शरीर लंबा व सुडौल होता है। यदि आप हस्त नक्षत्र के जातक हैं तो आप का व्यक्तित्व इतना आकर्षक है कि आप से प्रभावित हुए बिना रह पाना किसी के लिए भी असंभव है। आप निःस्वार्थ दूसरों की मदद करने के लिए सदा ही तत्पर रहते हैं। आप बहुत रचनात्मक व्यक्ति हैं तथा हाथ के काम में बहुत निपुण हैं। आपकी निपुणता आपको बहुत नाम व पहचान दिलाएगी। आप की कड़ी मेहनत व काम के लिए आपका समर्पण आपको बहुत सफल बना सकता है।

आपके प्रतिस्पर्धात्मक स्वभाव के कारण आप सफलता पाने के लिए प्रेरित रहते हैं। प्रायः आप बातों को दिल पर ले लेते हैं व यदि कोई आप को दुखी या आपकी उपेक्षा कर दे तो आप उस पर बरस भी पड़ते हैं। आपको अपनी भावनाओं के प्रति ईमानदार होना चाहिए तथा अक्लमन्दी व शांति के साथ उनकी चर्चा करनी चाहिए। जरूरत से अधिक आसक्त होने से बचें। साथ ही आप दूसरों के प्रति सहानुभूति रखें व उनकी जरूरतों के प्रति संवेदनशील रहें। आप ऐसे क्षेत्रों में सफलता अर्जित करेंगे जहां आपकी रचनात्मकता व आपके हाथों के कौशल का प्रयोग हो। इस नक्षत्र में जन्मे व्यक्ति संगठन व प्रबन्धन में बहुत कुशल होते हैं। जिन कार्यक्षेत्रों में बहुत यात्रा करनी होती है, ऐसी नौकरियां आप बहुत कुशलता के साथ कर सकते हैं। आपका वैवाहिक जीवन बहुत प्रसन्नतापूर्वक एवं संतोषजनक बीतेगा। आप छोटी-मोटी शारीरिक तकलीफों जैसे खांसी-जुकाम, सांस लेने में परेशानी, अस्थमा आदि से पीड़ित रह सकते हैं। खान-पान में आपकी अधिक आसक्ति से आपको उच्च रक्तचाप या दिल की बीमारी होने की आशंका है।

27 नक्षत्रों के नाम इस प्रकार हैं:

आज का पंचांग

आज का पंचांग यानि दैनिक पंचांग अंग्रेंजी में Daily Panchang भी कह सकते हैं। दिन की शुरुआत अच्छी हो, जो ...

और पढ़ें

आज की तिथि

तिथि पंचांग का सबसे मुख्य अंग है यह हिंदू चंद्रमास का एक दिन होता है। तिथि के आधार पर ही सभी...

और पढ़ें

आज का दिन

सप्ताह के प्रत्येक दिवस को वार के रूप में जाना जाता है। वार पंचांग के गठन में अगली कड़ी है। एक सूर्योदय से ...

और पढ़ें

आज का शुभ मुहूर्त

पंच मुहूर्त में शुभ मुहूर्त, या शुभ समय, वह समय अवधि जिसमें ग्रह और नक्षत्र मूल निवासी के लिए अच्छे या...

और पढ़ें

आज का नक्षत्र

पंचांग में नक्षत्र का विशेष स्थान है। वैदिक ज्योतिष में किसी भी शुभ कार्य को करने से पूर्व नक्षत्रों को देखा जाता है।...

और पढ़ें

आज का चौघड़िया

चौघड़िया वैदिक पंचांग का एक रूप है। यदि कभी किसी कार्य के लिए शुभ मुहूर्त नहीं निकल पा रहा हो या कार्य को ...

और पढ़ें

आज का राहु काल

राहुकाल भारतीय वैदिक पंचांग में एक विशिष्ट अवधि है जो दैनिक आधार पर होती है। यह समय किसी भी विशेष...

और पढ़ें

आज का शुभ होरा

वैदिक ज्योतिष दिन के प्रत्येक घंटे को होरा के रूप में परिभाषित करता है। पाश्चात्य घड़ी की तरह ही, हिंदू वैदिक ...

और पढ़ें

आज का शुभ योग

पंचांग की रचना में योग का महात्वपूर्ण स्थान है। पंचांग योग ज्योतिषाचार्यों को सही तिथि व समय की गणना करने में...

और पढ़ें

आज के करण

वैदिक ज्योतिष के अनुसार व्रत, पर्व को निर्धारित करने में पंचांग और मुहूर्त का महत्वपूर्ण स्थान है। इनके बिना, हिंदू ...

और पढ़ें

पर्व और त्यौहार

त्यौहार हमारे जीवन का अहम हिस्सा हैं, त्यौहारों में हमारी संस्कृति की महकती है। त्यौहार जीवन का उल्लास हैं त्यौहार...

और पढ़ें

राशि

वैदिक ज्योतिष में राशि का विशेष स्थान है ही साथ ही हमारे जीवन में भी राशि महत्वपूर्ण स्थान रखती है। ज्योतिष...

और पढ़ें