डेविड वॉर्नर (सनराइजर्स हैदराबाद )

बॉल टैम्परिंग विवाद में फंसने के चलते साल 2018 में आईपीएल की टीम सनराइजर्स हैदराबाद ने ऑस्ट्रेलिया के तूफानी सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner) को खेलने की इजाजत नहीं दी थी। पिछले सीजन में वॉर्नर ने आईपीएल खेला था और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे थे। वहीं आईपीएल के 13वैं सीजन में हैदराबाद ने केन विलियम्सन से कप्तानी की कमान लेकर डेविड वॉर्नर को सौंप दी है। इससे पहले साल 2016 में वॉर्नर को सनराइजर्स हैदराबाद का कैप्टन बनाया गया था और उन्होंने हैदराबाद को चैंपियन बनाया था। जबकि साल 2018 में टीम फाइनल मुकाबले में पहुंचने से एक कदम दूर रह गई थी। वहीं आईपीएल के 12वें सीजन में टीम क्वालीफायर्स तक पहुंची थी लेकिन मुंबई इंडियंस से हारकर चौथे स्थान से ही संतोष करना पड़ा था। अगर वॉर्नर के आईपीएल करियर की बात करें तो उन्होंने आईपीएल में कुल 126 मैच खेले हैं और 4706 रन बनाए हैं। वहीं डेविड की वापसी के बाद अब देखना होगा कि क्या इस बार सनराइजर्स आईपीएल को अपने नाम करने में कामयाब रहेंगें? यह काफी हद तक टीम के खेलने पर तो निर्भर करेगा ही लेकिन ज्योतिष शास्त्र इसमें खिलाड़ियों के ग्रहों की भी अहम भूमिका मानता है।एस्ट्रोयोगी एस्ट्रोलॉजर्स वॉर्नर की सूर्य राशि, नाम राशि और न्यूमेरोलॉजी के अनुसार इनके सितारे क्या कहते हैं? आइये जानते हैं।

डेविड वॉर्नर की कुंडली

1

नाम -

डेविड एंड्रयू वार्नर

2

जन्मतिथि -

23 अक्टूबर 1986

3

सूर्य राशि -

वृश्चिक

4

नाम राशि -

सिंह 

5

मूलांक -

5

6

भाग्यांक -

3

7

आईपीएल (IPL) 2020 की ओपनिंग  -

19 सितंबर 2020

8

स्थान -

यूएई

9

समय -

सायं 6 बजे /  भारतीय समयानुसार शाम 7.30 बजे 


डेविड वॉर्नर (David Warner) की जन्मतिथि के अनुसार इनकी सूर्य राशि वृश्चिक बनती है जिसके स्वामी मंगल हैं। इनके प्रभाव से ही वॉर्नर काफी आक्रामक खेलते हैं। वृश्चिक लग्न का स्वामी मंगल है जो खेल का कारक भी माना जाता है। मंगल का खेल ( पराक्रम ) भाव में उच्च का होकर बैठना वॉर्नर के खेल को निखारने का कार्य करेगा। आईपीएल के 13वें सत्र में ये बुद्धि व मन से सक्षम रहेंगे। जिससे इनके खेल में सुधार होगा। पराक्रमेश का अपने भाव को देखना व पराक्रम का स्वामी शनि का होना इनके लिए सफलता सूचक बन रहा है। कुल मिलाकर वॉर्नर इस सत्र में अच्छा प्रदर्शन करते नजर आ सकते हैं।

डेविड वार्नर का वर्तमान सत्र में मंगल का उच्च का होकर शनि के साथ एक केंद्र त्रिकोण का योग बनाना इनके पराक्रम में वृद्धि करने वाला बनेगा। कप्तान के तौर पर इनके अंदर नया ऊर्जा आत्मबल व आत्मविश्वास उभरकर आएगा। वर्तमान में पराक्रम में शनि का मार्गी होना भी इनके लिए एक टीम के साथ सामंजस्य की भावना को बनाने वाला होगा। टीम नेतृत्व अच्छा रहेगा और टीम का सहयोग बना रहेगा। कुल मिलाकर आईपीएल (IPL) का 12वां सीज़न इनके लिये मिलेजुले परिणमा लेकर आ सकता है।


आपकी कुंडली में कौन सा दोष है इसे जानने के लिये आप एस्ट्रोयोगी पर देश के प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से परामर्श कर सकते हैं। अभी बात करने के लिये यहां क्लिक करें।

Chat now for Support
Support